पाकिस्तान के लिए जासूसी कर रहे इंडियन नेवी के 7 जवान गिरफ्तार

आंध्र प्रदेश पुलिस ने शुक्रवार को पाकिस्तानी संपर्क वाले एक जासूसी रैकेट का पर्दाफाश करने का दावा करते हुए भारतीय नौसेना के सात कर्मियों को इस सिलसिले में गिरफ्तार किया।

जवानों पर आरोप है कि उन्होंने एक पाकिस्तानी हैंडलर को नौसेना के जहाजों और सबमरीन की लोकेशन की अहम जानकारी दी। आंध्र प्रदेश पुलिस ने नौसेना के 3 जवानों को विशाखापत्तनम से, 2 जवानों को करवर नेवल बेस से और 2 जवानों को मुंबई नेवल बेस से गिरफ्तार किया है।

आंध्र प्रदेश के खुफिया विभाग ने केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की मदद से पूरे देश में ‘ऑपरेशन डॉल्फिन’ लॉन्च किया था। इसी ऑपरेशन के तहत इस रैकेट का खुलासा हुआ है।

एक अधिकारी ने बताया कि “3-4 महिलाओं ने फेसबुक के जरिए जवानों से संपर्क किया और इसके बाद उन्हें ऑनलाइन रिलेशनशिप का झांसा दिया। इसके बाद महिलाओं ने जवानों को ऑनलाइन एक व्यक्ति से मिलवाया, जिसे उन्होंने बिजनेसमैन बताया। खूफिया विभाग का कहना है कि वह व्यक्ति असल में पाकिस्तानी हैंडलर था।”

“महिलाओं ने पहले भारतीय नौसेना के जवानों से सेक्सुअल बातें की और फिर उन्हें ब्लैमेल किया। इसके बदले में जवानों ने पाकिस्तानी हैंडलर को भारतीय युद्धपोत और सबमरीन की लोकेशन की जानकारी दी। अधिकारियों के अनुसार, नौसैनिकों को हवाला ऑपरेटर के जरिए इसके लिए पैसा भी मिला।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *