एर्दोआन ने मैक्रों को बताया – ‘‘दिमागी तौर पर मृत’’, फ्रांस ने तुर्की राजदूत को किया तलब

0
86

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयप एर्दोआन ने नाटो की आलोचना करने को लेकर फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों को ‘‘दिमागी तौर पर मृत’’ बताया। जिसको लेकर फ्रांस ने तुर्की के राजदूत को तलब कर सफाई मांगी है।

एर्दोआन में टेलीविजन पर प्रसारित अपने एक भाषण में कहा, ‘‘मैं फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों से बात कर रहा हूं और मैं नाटो में भी यह बात कहूंगा। पहली बात तो यह है कि, अपने मृत दिमाग की जांच कराएं। ऐसे बयान आप जैसे लोग ही दे सकते हैं जिनके दिमाग ने काम करना बंद कर दिया है।’’

एर्दोआन ने कहा, ‘‘आप जानते हैं कि दिखावा कैसे करना है लेकिन आप नाटो के लिए पर्याप्त राशि भी नहीं दे सकते। आप नौसिखिए हैं।’’ उन्होंने पिछले साल फ्रांस में प्रदर्शन आंदोलन का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘मेरा विश्वास कीजिए, मैक्रों में अनुभव की बहुत कमी है। उसे नहीं पता कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ना क्या होता है, इसलिए फ्रांस में ‘येलो वेस्ट’ आंदोलन हुआ।’’

उल्लेखनीय है कि मैक्रों ने एक साक्षात्कार में यूरोप तथा अमेरिका के बीच समन्वय की कमी और एक प्रमुख सदस्य राष्ट्र तुर्की द्वारा सीरिया में एक पक्षीय कार्रवाई को रेखांकित करते हुए कहा था, “हम अभी जो अनुभव कर रहे हैं वह यह है कि नाटो ‘मृत प्राय’ है।”

मैक्रोन ने उत्तरी सीरिया में कुर्दों के खिलाफ तुर्की के सैन्य अभियान को लेकर कहा कि नाटो इस तरह के कार्यों का समर्थन नहीं कर सकता है। फ्रांस और तुर्की दोनों ही अमेरिका के नेतृत्व वाले सैन्य दल के सदस्य हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here