यूपी के डीजीपी का बड़ा बयान – पूरे प्रदेश में सड़कों पर अब नहीं होगी नमाज और…

उत्तरप्रदेश में सड़कों पर होने वाली नमाज और आरती को लेकर उत्तर प्रदेश  के डीजीपी ओपी सिंह ने मंगलवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि सड़कों पर नमाज और आरती को लेकर अलीगढ़, मेरठ से हुई शुरुआत को पूरे प्रदेश में लागू करेंगे। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर ऐसा कुछ नहीं करने देंगे, जिससे लोगों को परेशानी हो।

दरअसल, पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जिला प्रशासन ने सड़क पर किसी भी प्रकार के धार्मिक आयोजन पर रोक लगा दी है। अब अलीगढ़ की सड़कों पर न तो नमाज पढ़ी जा सकेगी और न ही आरती या फिर हनुमान चालीसा का पाठ किया जा सकेगा। हालांकि ईद पर नमाज पढ़ने को लेकर इस तरह की पाबंदी नहीं लगाई गई।

इससे पहले मेरठ प्रशासन ने भी शहर में इस बार जुमे की नमाज सड़कों पर नहीं होने दी। नमाजियों को सड़कों पर नमाज से रोकने के लिए इमलियान मस्जिद के बाहर सिटी मजिस्ट्रेट व सीओ पुलिस बल के साथ मौजूद रहे।

हालांकि सड़क पर नमाज नहीं पढ़ने के मुद्दे पर मुस्लिम समुदाय के लोग सहमत हैं। इस फरमान पर मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने लोगों से अपील की है कि इस मुद्दे को राजनीतिक रंग न दिया जाएउन्हों

ने कहा कि यह समझने वाली बात है कि शहर में एक ही मस्जिद होने के कारण जब लोगों की संख्या ज्यादा हो जाती है तो उन्हें कई बार सड़क पर भी नमाज पढ़नी पड़ती है। ऐसा ही अन्य धर्मों के साथ भी है, जब मंदिरों में लोगों की संख्या ज्यादा होती है तो लोग बाहर खड़े होकर ही प्रार्थना करते हैं। महली ने कहा कि मैं लोगों से विनती करता हूं कि इस आदेश को मुद्दा न बनाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *