मार्च 2019 तक कुवैत में इस क्षेत्र से निकाल दिया जाएगा 3,108 प्रवासियों को

कुवैत: नेशनल असेंबली ऑफ़ कुवैत ने पब्लिक सेंटर में प्रवासियों की जगह कुवैतियों को रखने की पुष्टि की है और कहा है “कि सरकार आने वाले सालों में 2022 तक कुवैतीकरण को पूरा करेगी”. सूत्रों के मुताबिक यह भी घोषणा की गयी है की “वित्तीय वर्ष के दौरान प्रवासियों के लिए नौकरियों की एक सूची समाप्त हो जाएगी, जो की अप्रैल में शुरू हुआ था और 2019 में खत्म होगा, जिसमे 48 सरकारी विभागों से तीन हजार से अधिक प्रवासी कर्मचारियों को निकाला जाएगा.”

कुवैत टाइम्स के अनुसार घोषणा में कहा गया है की “सिविल सेवा आयोग ने नेशनल असेंबली को 2014 से रोजगार के लिए कुछ नागरिकों की संख्या नामांकित कर भेजा, जो की 75,476 है, जबकि स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रालयों में 16,468 प्रवासी नियुक्त किए गए थे जहां कुवैतियों द्वारा कोई आवेदन नहीं किया गया था. घोषण में यह भी कहा गया है कि अप्रैल की शुरुआत के बाद से 20 दिनों में 8,156 नागरिकों के आवेदन के साथ देश में सबसे बड़े रोजगार को देखा गया.”

कुवैत टाइम्स के अनुसार सिविल सेवा से संबंधित विभागों में देश में नागरिकों की तुलना 78,439 प्रवासियों की तुलना में 256,048 है, जिनमें से 31,362 शिक्षा में काम कर रहे हैं और स्वास्थ्य में 34,78 9 और अवकाफ मंत्रालयों में 2,931 काम कर रहे हैं.  समिति के संवाददाता सांसद सफा अल-हशम ने कहा कि समिति ने बेरोजगारी की समस्या को खत्म करने के लिए यह समाधान खोजा.”

कुवैत पेट्रोलियम निगम (केपीसी) और इसकी सहायक कंपनियों ने 2017/2018 वित्तीय वर्ष के दौरान केएम 18.3 मिलियन के दौरान अमादी अस्पताल में प्रवासी कर्मचारियों और उनके परिवारों के चिकित्सा उपचार के लिए खर्च किया. .अहमदी अस्पताल में प्रवासी रोगियों की संख्या में पिछले कुछ सालों से गिरावट आई है, क्योंकि बड़ी संख्या में श्रमिकों को कुवैतकरण प्रक्रिया के हिस्से के रूप में स्थानांतरित कर दिया गया था. अमादी अस्पताल में प्रवासी मरीजों की संख्या 2013/2014 में 110,600 से घटकर 2017/2018 में 79,700 हो गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *